दिल्ली में नशीली दवाओं के गिरोह का भंडाफोड़, 40 करोड़ रुपये की हेरोइन बरामद, दो आरोपी गिरफ्तार

नयी दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने एक अंतर्राष्ट्रीय मादक पदार्थ गिरोह का भंडाफोड़ किया है और उसके दो प्रमुख सदस्यों को अंतर्राष्ट्रीय बाजार में 40 करोड़ रुपये की हेरोइन के साथ गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।
पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) ने कहा कि विशेष प्रकोष्ठ की एक टीम इस सूचना पर काम कर रही थी कि मणिपुर, असम, उत्तर प्रदेश, बिहार और दिल्ली राज्यों में एक अंतर्राष्ट्रीय मादक पदार्थ गिरोह सक्रिय है। इस गिरोह के सदस्य म्यांमार से तस्करी कर लाए गए हेरोइन की आपूर्ति प्राप्त करने में शामिल थे और इसे देश के विभिन्न हिस्सों में आपूर्ति करते थे।
डीसीपी ने बताया कि इस जानकारी को विकसित करने में चार महीने लगे और इस प्रक्रिया के दौरान इस कार्टेल के सदस्यों की पहचान की गई।
24 मार्च को, पुलिस को सूचना मिली कि इस गिरोह के दो सदस्य दिनेश और नजीर ने झारखंड से हेरोइन की एक बड़ी खेप इकट्ठी की है और अपने एक संपर्क को प्रतिबंधित सामग्री की आपूर्ति करने के लिए दिल्ली आएंगे। इसके बाद, एक पुलिस दल का गठन किया गया जिसने आईएसबीटी सराय काले खां के पास टी प्वाइंट दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर जाल बिछाया और दिनेश सिंह (57) और नजीर उर्फ नाजिम (28) के रूप में पहचाने गए आरोपियों को पकड़ लिया।
अधिकारी ने कहा, दोनों आरोपियों के बैग से छह किलो हेरोइन यानी तीन-तीन किलो बरामद किया गया। कार की तलाशी के दौरान, कार की पिछली सीट में चार किलो हेरोइन छिपाई गई थी। गिरफ्तार किए गए दोनों ड्रग्स आपूर्तिकर्ताओं ने पूछताछ के दौरान खुलासा किया कि वे एक बड़े अंतर्राष्ट्रीय मादक पदार्थ कार्टेल के सदस्य हैं और पिछले 5 वर्षों से दिल्ली-एनसीआर और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में ड्रग्स की आपूर्ति में शामिल थे।