नारायण राणे बोले- मार्च तक गिर जाएगी महाविकास अघाड़ी सरकार!

मुंबई: महाराष्ट्र के पूर्व सीएम व केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने दावा किया है कि 2022 मार्च तक राज्य में बीजेपी की सरकार बनेगी. जयपुर में आयोजित एक कार्यक्रम के बाद सवाददाताओं से बातचीत करते हुए मंत्री राणे ने दावा किया है कि अगले चार महीने में महाराष्ट्र की

गिर जाएगी और फिर बीजेपी की सरकार बनेगी.
उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार आ जाएगी तो राज्य की जनता को अपेक्षित बदलाव दिखाई देगा. उन्होंने कहा कि किसी भी राज्य में सरकार बनाने या गिराने की बातें ऐसी हैं, जिन्हें सीक्रेट ही रखा जाता है.
नारायण राणे ने कहा कि उद्धव ठाकरे स्वस्थ नहीं हैं. इसलिए हमारे पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने उनके बारे में बात नहीं करने के लिए कहा है. मैं अंदर की बात नहीं बताना चाहता हूं. सरकार गिराने और नई सरकार बनाने के लिए कुछ बातें सीक्रेट रखनी होती हैं. अगर हम सारी बात बता देंगे तो सरकार बनाने में एकाध महीने की देर हो सकती है.
नारायण राणे ने महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल का नाम लेकर बताया कि उन्होंने ही मार्च तक महाराष्ट्र में सरकार बनाने की बात कही है. मैं उन्हीं की बात आपके सामने कह रहा हूं. हम लोग उनकी कहीं बात को सच साबित करने के लिए एकजुट होकर काम करेंगे.

दिल्ली में महाराष्ट्र बीजेपी के नेता कर रहे बैठक
एक तरफ केंद्रीय मंत्री नारायण राणे मार्च में महाराष्ट्र में सरकार बनाने का दावा कर रहे हैं तो दूसरी तरफ राज्य के कई बीजेपी नेता दिल्ली में मौजूद हैं. गुरुवार देर रात बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल नें केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी. अमित शाह के साथ होने वाली इस बैठक में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को भी शामिल होना था, लेकिन फ्लाइट में देरी होने के कारण वह बैठक में शामिल नहीं हो पाए थे.

बता दें कि महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे की हाल ही में रीढ़ की हड्डी की सर्जरी हुई है. 23 अगस्त को नारायण राणे ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के ‘कान के नीचे बजाने वाला बयान दिया था’. इसके बाद पूरे महाराष्ट्र में शिवसैनिकों ने उग्र प्रदर्शन किया था. नारायण राणे को रायगढ़ से पुलिस ने गिरफ्तार किया था. हालांकि, कुछ देर बाद ही उन्हें जमानत दे दी गई थी.

प्रत्येक गाय से होगी तीन सौ रुपए महीने की आमदनी: राणे
बता दें कि जयपुर के कुमारप्पा हाथ कागज संस्थान ने गाय के गोबर से कलर के बाद अब इसी गोबर की सहायता से एंटी बैक्टिरियल कपड़ा बनाया है. केन्द्रीय एमएसएमई मंत्री नारायण राणे ने शुक्रवार को संस्थान में इस कपड़े की लांचिंग की.
इस मौके पर मंत्री ने मीडिया से बातचीत में कहा कि संस्थान का यह नवाचार किसानों की आय बढ़ाएगा. कपड़े के उत्पादन के लिए किसानों से पांच रुपए प्रति किलो की दर पर गोबर खरीदा जाएगा. शुरुआती आकलन के अनुसार, हर किसान को प्रत्येक गाय से औसतन तीन सौ रुपए प्रतिमाह की आमदनी हो सकेगी. भविष्य में इसकी उत्पादन इकाइयां राज्य में लगेंगी तो आमजन को रोजगार भी मिलेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *