वाराणसी कैंट स्टेशन पर बनेगा स्काईवाक, यात्रियों को मिलेगी विश्वस्तरीय सुविधा

वाराणसी,(राजेश जायसवाल): कैंट स्टेशन पर जल्द ही यात्रियों को विश्वस्तरीय सुविधा प्राप्त होने वाली है। यहां एक स्काईवाक बनाने का प्रस्ताव है। इस परियोजना के तहत सभी चार फुट ओवरब्रिज (एफओबी) को आपस में जोड़कर एक नया ब्रिज बनाया जाएगा।
मिली जानकारी के मुताबिक, लखनऊ मंडल कार्यालय से परियोजना की रूपरेखा तैयार कर नई दिल्ली मुख्यालय भेज दिया गया है। हरी झंडी मिलने के बाद इस परियोजना को मूर्तरूप दिया जाएगा।
स्काईवाक से जहां यात्रियों को सुविधा मिलेगी। वहीं, कैंट स्टेशन (वाराणसी जंक्शन) का कद और भी बढ जाएगा। पहले से मौजूद दो फुट ओवरब्रिज (ओल्ड एफओबी और न्यू एफओबी) का आपस में कोई जुड़ाव नहीं है। लिहाजा, एक छोर से दूसरे छोर तक जाने के लिए यात्रियों को पुल से नीचे उतरना पड़ता है। कभी – कभी ट्रेनों का प्लेटफार्म बदलने के दौरान भगदड़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाती है। यात्रियों को सीढ़ियां चढ़कर एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म की तरफ दौड़ना पड़ता है। इस निर्माण कार्य के पूरा होने से यात्रियाें को काफी सुविधा होगी।

आपस में जुड़ेंगे फुट ओवरब्रिज
स्काईवाक परियोजना के तहत कैंट स्टेशन पर फुट ओवरब्रिज को आपस में जोड़ा जाएगा। दो एफओबी पहले से ही मौजूद हैं। विस्तारित भवन से तीसरे फुट ओवरब्रिज का निर्माण कार्य शुरू हो गया है। वहीं, मालगोदाम क्षेत्र में प्रस्तावित प्लैटफार्म नंबर 10 और 11 के लिए फूट ओवरब्रिज का निर्माण जल्द ही शुरू हो जाएगा। सभी फुट ओवरब्रिज आपस में जोड़ दिए जाएंगे। पहले चरण में परियोजना का प्रारूप बनाकर नई दिल्ली मुख्यालय भेज दिया गया है। अनुमति मिलने के बाद जमीनी स्तर पर कार्रवाई शुरू हो जाएगी।

कैंट स्टेशन पर एक स्काईवॉक बनाने का प्रस्ताव है
कैंट स्टेशन पर एक स्काईवॉक बनाने का प्रस्ताव है। इस संदर्भ में प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाकर मुख्यालय भेज दिया गया है। वर्क आर्डर मिलते ही काम शुरू कर दिया जाएगा। इससे आने वाले दिनों में यात्रियों को काफी सुविधा होगी।
– कमलेश कुमार, सीनियर डीईएन (कोआर्डिनेशन) लखनऊ मंडल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *