घरेलू हिंसा मामले में क्रिकेटर शमी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट, कोर्ट ने 15 दिन में सरेंडर करने को कहा

कोलकाता, अलीपुर कोर्ट ने घरेलू हिंसा के मामले में क्रिकेटर मोहम्मद शमी और उनके भाई हासिद अहमद के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। कोर्ट ने दोनों को 15 दिन के अंदर सरेंडर करने के आदेश दिए हैं।

चार्जशीट पढ़ने के बाद ही शमी पर फैसला लेंगे- बीसीसीआई
बीसीसीआई ने कहा- हम जानते हैं कि शमी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ है, पर अभी इस मौके पर हम इसमें उलझना नहीं चाहते हैं। शमी के खिलाफ तब तक एक्शन नहीं लिया जाएगा, जब तक हम चार्जशीट नहीं देख लेते हैं। इसके बाद हम विचार करेंगे कि बोर्ड का संविधान किस तरह के एक्शन के बारे में निर्देशित करता है। अभी इस पर कोई भी फैसला लेना जल्दबाजी होगी। हम जानते हैं कि शमी वेस्टइंडीज दौरे से लौटने के बाद जो जरूरी कदम होगा, वह उठाएंगे।
मार्च में शमी के खिलाफ दहेज उत्पीड़न और यौन उत्पीड़न के मामले में चार्जशीट दाखिल की गई थी। उन पर भारतीय दंड संहिता की धारा 498 ए (दहेज उत्पीड़न) और 354 ए (यौन उत्पीड़न) के तहत आरोप लगाए गए थे। तेज गेंदबाज शमी पर उनकी पत्नी हसीन जहां ने पिछले साल भी दहेज उत्पीड़न, शारीरिक उत्पीड़न, मैच फिक्सिंग जैसे कई संगीन आरोप लगाए थे। हालांकि, बीसीसीआई ने जांच के बाद फिक्सिंग के आरोपों से उन्हें क्लीन चिट दे दी थी।

क्या है शमी-हसीन जहां विवाद?
शमी की पत्नी हसीन जहां ने अपने फेसबुक अकाउंट पर कई फोटोज शेयर करते हुए उन पर लड़कियों के साथ अवैध संबंध रखने का आरोप लगाया था।
हसीन ने शमी और उन लड़कियों के बीच हुई वॉट्सऐप चैट के स्क्रीनशॉट भी शेयर किए थे। एक फोटो में शमी किसी महिला के साथ खड़े नजर आए। उसे भी शमी की ‘गर्लफ्रेंड’ बताया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *