वाराणसी: CAA पर पीएम नरेंद्र मोदी को उनके संसदीय क्षेत्र में ही घेरेंगी प्रियंका

वाराणसी: नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में देशभर में मोर्चा खोलने वाली कांग्रेस की महासचिव तथा पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी में ही घेरेंगी।
10 जनवरी को प्रियंका गांधी का वाराणसी दौरा राजनीतिक दृष्टि से बेहद अहम माना जा रहा है।
कांग्रेस, नागरिकता संसोशन कानून (सीएए) को मुख्‍य मुद्दा बनाकर लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर है। खासकर प्रियंका गांधी बयान तथा ट्वीट के जरिए केंद्र और यूपी की सरकार को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ रही हैं। इस क्रम में वह 10 जनवरी को पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में सीएए के विरोध प्रदर्शन में जेल गए लोगों से सीधा संवाद करेंगी।
प्रदर्शनकारियों के अलावा प्रियंका इस कानून का विरोध करने वाले विश्‍वविद्यालयों व महाविद्यालयों के छात्रों एवं प्रफेसरों से भी बातचीत करेंगी। करीब तीन घंटे के काशी प्रवास में पूर्वांचल के कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेताओं तथा कार्यकर्ताओं से भी मिलने का उनका कार्यक्रम है।
कांग्रेस महानगर अध्‍यक्ष राघवेंद्र चौबे ने बताया कि प्रियंका गांधी के वाराणसी दौरे की सूचना बुधवार दोपहर मिलते ही पार्टी स्‍तर पर तैयारी शुरू हो गई है। तय कार्यक्रम के मुताबिक प्रियंका गांधी 10 जनवरी को सुबह 10 बजे दिल्‍ली से वाराणसी पहुंचेंगी। एयरपोर्ट से सीधे राजघाट स्थित संत रविदास मंदिर जाकर मत्‍था टेकने के बाद वहीं पर उन 56 प्रदर्शनकारियों से मिलेंगी, जो सीएए का विरोध करते जेल गए थे। इनमें दुधमुंही चंपक की मां समाजिक कार्यकर्ता एकता शेखर भी शामिल हैं, जिनकी रिहाई के लिए प्रियंका ने अवाज उठाई थी।
प्रियंका ने ट्वीट कर कहा था कि सरकार बच्‍ची की बेगुनाह मां को घर जाने दे। प्रियंका ने पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में साल के 365 दिनों में से 359 दिन धारा 144 लागू रहने पर भी ट्वीट कर तंस कसा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *